Indian Pharmacist America Me Job Kaise Kare?

Indian Pharmacist America Me Job Kaise Kare?

indian pharmacist america me job kaise kare, how pharmacist work in america, fpgec certification, fpgec exam details, foreign pharmacy exam, fpgec certificate, fpgee, fpgee exam fee, foreign pharmacy graduate equivalency examination, toefl ibt, toefl, american pharmacist, jobs for pharmacist in america, nabp, qualification for fpgee, eligibility for fpgee



भारतीय फार्मासिस्ट अमेरिका में नौकरी कैसे प्राप्त करे?

विदेश में नौकरी करना अधिकांश लोगों को पसंद है और अगर वह देश अमेरिका हो तो सोने पे सुहागा जैसा महसूस होता है. हमने अधिकांशतः इंजीनियरिंग ग्रेजुएट्स को अमेरिका में कार्य करते देखा है जिनमे इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र से जुड़े हुए लोग ज्यादा हैं.

इनको देखकर फार्मेसी स्टूडेंट्स के मन में भी अमेरिका में कार्य करने की इच्छा जाग्रत होती है लेकिन सूचना के अभाव में जाना नहीं हो पाता है.

फार्मेसी की शिक्षा ग्रहण करते समय बहुत से विदेशी लेखकों की किताबे पढने को मिलती है लेकिन हकीकत में वहाँ जाकर कैसे कार्य किया जा सकता है इसके सम्बन्ध में बहुत कम लोगों को पता है.

आज मैं आपको बताऊंगा कि एक फार्मेसी स्टूडेंट को विदेश में विशेषकर अमेरिका में नौकरी प्राप्त करने के लिए क्या करना होगा.

फार्मेसी ग्रेजुएट के लिए अमेरिका में कार्य करने के लिए अपने क्षेत्र के अनुसार NAPLEX, MPJE, PCOA आदि परीक्षाएँ पास करनी होती है. ये सभी परीक्षाएँ अमेरिका में फार्मेसी की शिक्षा प्राप्त स्टूडेंट्स दे सकते हैं.

गैर अमेरिकन फार्मेसी स्टूडेंट्स इन परीक्षाओं को सीधे तौर पर नहीं दे सकते हैं. इन्हें इन परीक्षाओं में भाग लेने के लिए सबसे पहले Foreign Pharmacy Graduate Examination Committee (FPGEC) Certification परीक्षा को उत्तीर्ण करना होता है.

What is FPGEC Certification and how to get it?

सारांश यह है कि ऐसे स्टूडेंट्स जिन्होंने अमेरिका में फार्मेसी की शिक्षा ग्रहण नहीं की है उन्हें सबसे पहले FPGEC Certification लेना होगा तभी वो NAPLEX, MPJE, PCOA आदि परीक्षाओं में भाग ले सकते हैं.

अब मैं सबसे पहले आपको ये बताऊंगा कि अमेरिका में इन सभी परीक्षाओं को कौन रेगुलेट करवाता है और इनका क्या महत्व है.

आमजन के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए अमेरिका में वर्ष 1904 में National Association of Boards of Pharmacy (NABP) नामक नॉन प्रॉफिट आर्गेनाईजेशन स्थापित किया गया था.

indian pharmacist america me job kaise kare

इस आर्गेनाईजेशन के सदस्यों में अमेरिका के 50 स्टेट फार्मेसी बोर्ड्स के साथ-साथ Columbia, Guam, Puerto Rico, the Virgin Islands के फार्मेसी बोर्ड्स, 10 Canadian provinces के फार्मेसी बोर्ड्स और Bahamas का फार्मेसी बोर्ड शामिल हैं.

वर्तमान में NABP विभिन्न प्रकार की परीक्षाओं के माध्यम से फार्मासिस्ट की competency, pharmacist licensure transfer, pharmacist licensure verification services के साथ फार्मेसी के कई  accreditation programs को देखता है.

Also Read - Pharmacist Ke Liye America Me NAPLEX Exam Compulsory

आज हम केवल FPGEC Certification के बारे में ही बात करेंगे क्योंकि किसी भी नॉन अमेरिकन फार्मेसी स्टूडेंट को अमेरिका में कार्य करने के लिए यह सबसे पहला कदम है.

FPGEC Certification एक तरह से Qualifying Certificate है जिसमे कैंडिडेट की फार्मेसी की शिक्षा और लाइसेंस या रजिस्ट्रेशन के रिव्यु के साथ TOEFL iBT (Test of English as a Foreign Language Internet-Based Test) और FPGEE (Foreign Pharmacy Graduate Equivalency Examination) के पासिंग स्कोर शामिल होते हैं.

यह सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए हमें इन दोनों परोक्षाओं TOEFL iBT और FPGEE को पास करना आवश्यक है. साथ ही हमें यह अच्छी तरह समझना होगा कि यह सर्टिफिकेट अमेरिका में फार्मेसी प्रैक्टिस करने के लिए कोई लाइसेंस नहीं है.

यह तो केवल एक पैमाना है जो यह निर्धारित करता है कि गैर अमेरिकी फार्मेसी स्टूडेंट्स की शिक्षा अमेरिकी फार्मेसी स्टूडेंट्स की शिक्षा के बराबर की है या नहीं. इस परीक्षा को पास करने से आपकी शिक्षा अमेरिकी स्टूडेंट की शिक्षा के बराबर मान ली जाती है.

लाइसेंस लेने के लिए सभी स्टेट बोर्ड्स की अलग-अलग रिक्वायरमेंट्स हैं. जब आप एक बार FPGEC certified हो जाते हो तब आपको इन बोर्ड्स की वेबसाइटस पर जाकर चेक करना होगा.

अब हम बात करते हैं कि FPGEC Certification प्राप्त करने के लिए फार्मासिस्ट की शैक्षणिक योग्यता क्या होनी चाहिए. अगर आपने 1 January 2003 से पहले फार्मेसी की शिक्षा प्राप्त कर रखी है तो आपका ग्रेजुएशन मिनिमम चार वर्षों का होना चाहिए मतलब फोर इयर डिग्री कोर्स.

अगर आपने 1 January 2003 के बाद में फार्मेसी की शिक्षा प्राप्त की है तो आपका ग्रेजुएशन मिनिमम पाँच वर्षों का होना चाहिए मतलब फाइव इयर डिग्री कोर्स.

इसके साथ आपके देश के हिसाब से आपका लाइसेंस या रजिस्ट्रेशन भी होना जरूरी है. जरूरत के अनुसार ये दोनों मांगे जा सकते हैं.

अगर भारत के हिसाब से देखें तो यहाँ का फार्मेसी ग्रेजुएट अमेरिका में कार्य करने के लिए योग्य नहीं है क्योंकि यहाँ पर बी फार्म कोर्स फार्मेसी में ग्रेजुएशन कोर्स होता है और इसकी अवधि चार वर्ष की होती है.

हाँ, फार्म डी योग्यता धारी अमेरिका में कार्य करने के लिए योग्य है क्योंकि यह कोर्स पाँच वर्षों से अधिक समय का होता है. भारत में जिस प्रकार फार्म डी कोर्स के लिए रोजगार के अवसर हैं उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि यह कोर्स शायद अमेरिका के लिए ही बना है.

How to apply for FPGEC Certification?

अब बात करते है कि FPGEC Certification के लिए अप्लाई कैसे करें. इसके लिए हमें सबसे पहले NABP की वेबसाइट (www.nabp.pharmacy) पर जाकर अपना NABP e-Profile बनाना होगा और FPGEC application फॉर्म को ऑनलाइन भरना होगा. यहाँ पर सपोर्टिंग डाक्यूमेंट्स के साथ साथ डॉलर में फीस भी पे करनी होती है.

ध्यान रहे कि FPGEC Certification के लिए एप्लीकेशन फॉर्म दो वर्षों के लिए वैलीड रहता है अतः हमें इन दो वर्षों में दोनों परीक्षाएँ (TOEFL iBT, FPGEE) पास करनी होती हैं. परीक्षाओं के लिए दुनिया भर में सेंटर्स बने होते हैं जहाँ जाकर परीक्षाएँ देनी होती हैं.

अगर आप अपनी Eligibility के साथ-साथ इन परीक्षाओं को पास कर लेते हो तो आपको FPGEC Certification मिल जाता है. इसके बाद आप अमेरिका में शिक्षित फार्मासिस्ट्स के बराबर योग्य मान लिए जाते हो.

आज के विडियो में बस इतना ही, अगले विडियो में हम उन परीक्षाओं के सम्बन्ध में चर्चा करेंगे जो FPGEC Certification के पश्चात दी जा सकती हैं और जिन्हें पास करने के बाद अमेरिका में कार्य करने का सपना पूरा हो सकता है.


About Author

Ramesh Sharma
M Pharm, MSc (Computer Science), MA (History), PGDCA, CHMS

Connect with us

Follow Us on Twitter
Follow Us on Facebook
Subscribe Our YouTube Travel Channel
Subscribe Our YouTube Healthcare Channel

Disclaimer

इस लेख में दी गई जानकारी विभिन्न ऑनलाइन एवं ऑफलाइन स्त्रोतों से ली गई है जिनकी सटीकता एवं विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है. हमारा उद्देश्य आप तक सूचना पहुँचाना है अतः पाठक इसे महज सूचना के तहत ही लें. इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी.

अगर आलेख में किसी भी तरह की स्वास्थ्य सम्बन्धी सलाह दी गई है तो वह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर लें.

आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं एवं कोई भी सूचना, तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार N24.in के नहीं हैं. आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति N24.in उत्तरदायी नहीं है.

0 Comments