Kya Koi Student Simultaneously Do Course Kar Sakta Hai?

Kya Koi Student Simultaneously Do Course Kar Sakta Hai?


kya koi student simultaneously do course kar sakta hai, can a student do two degree courses simultaneously, how can a student do two degree course at a time, can a student take admission in two courses simultaneously, dual degree course, ugc notification on dual degree, dual degree legality


क्या कोई विद्यार्थी एक साथ कर सकता है दो डिग्री कोर्स?


क्या कोई स्टूडेंट किसी एक कोर्स के साथ-साथ कोई अन्य कोर्स में एडमिशन ले सकता है? क्या एक साथ दो डिग्रीज कम्पलीट की जा सकती हैं? क्या इस तरह से दो कोर्स एक समय में एक साथ करना लीगली सही है?

आज के समय में ये प्रश्न लगभग सभी स्टूडेंट्स के मन में है. बहुत से स्टूडेंट्स एक साथ दो कोर्स कम्पलीट करना चाहते हैं लेकिन उन्हें इस विषय में ज्यादा पता नहीं है.

ज्यादातर स्टूडेंट्स की इस परेशानी को ध्यान में रखते हुए आज हम इस विषय पर बात करते हैं और इन सभी प्रश्नों के उत्तर जानने की कोशिश करते हैं.

इस विषय में सोचने पर सबसे पहले यह प्रश्न उठता है कि आखिर कोई भी स्टूडेंट दो डिग्री या दो कोर्स एक साथ क्यों करना चाहता है.

क्या स्टूडेंट्स वास्तव में इतने अधिक इंटेलीजेंट हो गए हैं कि वो दो कोर्सेज की पढाई एक साथ करने में सक्षम है या फिर ये किसी मजबूरीवश एक साथ दो कोर्स करना चाहते हैं?

Why students want to take admission in dual degree course?


इसके दो ही कारण हो सकते हैं. पहला कारण तो यह है कि स्टूडेंट्स कई बार किसी के दवाब में किसी ऐसे कोर्स में एडमिशन ले लेते हैं जिसमे इन्हें बिलकुल इंटरेस्ट नहीं होता है.

जिस कोर्स में या जिस विषय में इनका इंटरेस्ट होता है उसकी पढाई करने की इच्छा इनके मन में हमेशा रहती है. अपनी इस इच्छा को पूरा करने के लिए ऐसे स्टूडेंट्स दो कोर्स एक साथ करने को प्रायोरिटी देते हैं.

kya koi student simultaneously do course kar sakta hai

दूसरा कारण स्टूडेंट्स की मजबूरी है. कई ऐसे स्टूडेंट्स जो कोई डिप्लोमा या सर्टिफिकेट्स कोर्स कर रहे होते हैं, उनकी इच्छा किसी ग्रेजुएट डिग्री को करने की होती है ताकि ये ग्रेजुएट बन सके और उस लेवल की प्रतियोगी परीक्षाएँ दे सकें. ऐसे स्टूडेंट्स भी दो कोर्स एक साथ करने की कोशिश करते हैं.

दो कोर्स की पढाई करना कोई गलत नहीं है लेकिन दुर्भाग्य से अभी तक इस विषय में कोई नियम नहीं होने की वजह से स्टूडेंट्स के मन में हमेशा भ्रम की स्थिति बनी रहती है.

इस भ्रम की स्थिति का कई लोग फायदा उठाते हैं जिसका नतीजा कई बार स्टूडेंट्स के साथ धोखाधड़ी के रूप में सामने आता है.

UGC draft notification on dual degree course


स्टूडेंट्स की इस महत्वपूर्ण जरूरत को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार इस दिशा में कदम उठा रही है जिसके अंतर्गत पिछले वर्ष यानि वर्ष 2020 में यूजीसी ने इस सम्बन्ध में एक ड्राफ्ट नोटिफिकेशन भी निकाला था.

इस नोटिफिकेशन के अनुसार अब स्टूडेंट्स को दो कोर्स एक साथ करने की परमिशन दी जाएगी यानि कोई भी विद्यार्थी कोई भी दो कोर्स एक साथ एक ही समय में कर पाएगा.

स्टूडेंट जिस कॉलेज या यूनिवर्सिटी में पढ़ रहा है उससे या किसी अन्य कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ये दोनों कोर्स कर पाएगा.

बस इसमें ध्यान रखने योग्य सबसे बड़ी बात यह है कि कोई भी स्टूडेंट दो रेगुलर कोर्स एक साथ नहीं कर पाएगा, मतलब जिन कोर्सेज में रेगुलर अटेंडेंस जरूरी होती है वो दो कोर्स एक साथ नहीं किये जा सकेंगे.


इसका मतलब यह है कि किसी भी रेगुलर कोर्स के साथ एक नॉन रेगुलर कोर्स किया जा सकेगा या फिर दो नॉन रेगुलर कोर्स साथ में किये जा सकेंगे.

इस प्रकार एक रेगुलर डिग्री या डिप्लोमा के साथ कोई दूसरा कोर्स नॉन रेगुलर मोड यानि डिस्टेंस, ऑनलाइन, पार्ट टाइम या प्राइवेट मोड द्वारा किया जा सकता है.

जैसे अगर आप इंजीनियरिंग कर रहे हैं तो आप नॉन रेगुलर मोड में किसी भी विषय में ग्रेजुएशन या डिप्लोमा कर सकते हैं, इसी प्रकार अगर आप कोई रेगुलर मोड में होने वाला डिप्लोमा जैसे डी फार्म कोर्स कर रहे है तो आप नॉन रेगुलर मोड़ में इसके साथ में कोई भी ग्रेजुएट डिग्री कर सकते हैं.

इस प्रकार नॉन ग्रेजुएट कोर्स वाले विद्यार्थियों के लिए यह कार्य गोल्डन चांस होगा कि वो एक ही समय में अपना डिप्लोमा भी कर लें और कोई डिग्री भी कर लें.

वैसे यूजीसी ने वर्ष 2012 में भी इस दिशा में प्रयास किया था लेकिन तब उसके प्रयास सफल नहीं हो पाए थे, लेकिन न्यू एजुकेशन पालिसी 2020 के आने से शिक्षा जगत में कई बदलाव देखने को मिलेंगे जिसमे से एक अहम बदलाव ये भी है.

अभी तक ये रूल्स लागू नहीं हुए हैं लेकिन इनके जल्द ही लागू होने की सम्भावना है. उम्मीद है इन रूल्स के लागू होने के बाद बहुत से स्टूडेंट्स इनका फायदा अपने करियर को सँवारने में उठाएँगे.

About Author

Ramesh Sharma
M Pharm, MSc (Computer Science), MA (History), PGDCA, CHMS

Connect with us

Follow Us on Twitter
Follow Us on Facebook
Subscribe Our YouTube Travel Channel
Subscribe Our YouTube Healthcare Channel

Disclaimer

इस लेख में दी गई जानकारी विभिन्न ऑनलाइन एवं ऑफलाइन स्त्रोतों से ली गई है जिनकी सटीकता एवं विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है. हमारा उद्देश्य आप तक सूचना पहुँचाना है अतः पाठक इसे महज सूचना के तहत ही लें. इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी.

अगर आलेख में किसी भी तरह की स्वास्थ्य सम्बन्धी सलाह दी गई है तो वह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर लें.

आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं एवं कोई भी सूचना, तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार N24.in के नहीं हैं. आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति N24.in उत्तरदायी नहीं है.

0 Comments